Posts

गुजरात में आम जनता का चुनाव है या जातिगत राजनीति का चुनाव।

सैनिक के लिए टीटनेस का एक इंजेक्शन 5200 रुपए में।

लघुकथा- ले हलुआ पार्ट - 1

जस्टिस लोया की मौत और कुछ सवाल।

पेड़ से टपका एक पुराना चुनावी सर्वे।

कभी तो कपडा डे कम्बल डे मना लो साहब।

रात में जागती आँखें- रात को बच्चे वह देख लेते हैं जो उन्हें नहीं देखना चाहिए।

यहीं कहीं गिरा था सैनिक,भारत माता की जय कहकर।

26/11 एक ऐसी तारीख़ जो कैलेंडर से निकल कर किताबों तक पहुँच चुकी है।

सैनिक।

ख्वाहिशों के शहर में।

कहां गिरा होगा मेरा झुमका ?

कहानी डक की: डक जिसने शून्य का स्थान ले लिया क्रिकेट में!

जस्टिस लोया की मौत : चुप्पी अब एक राष्ट्रीय अभियान है।

धाकड़ राइटर खुशवंत सिंह की एक ज़माने की पड़ोसन।

कर्मठ सिविल सेवक : पी.नरहरि