चाइल्ड-बेगगिंग-फ्री इंडिया" पर मिड नाईट डायरी का पोएट्री टूर।






कविता और साहित्य को बढ़ावा देते हुए दिल्ली में स्थित मिडनाइट डायरी ने कल शाम "बैठक ३.०" का आयोजन किया। यह बैठक कानपुर शहर के नाना राव स्मारक पार्क में रखी गयी जिसकी मेज़बानी बाकरगंज में रहने वाले कृष्ण कुमार पांडेय ने की। पांडेय पेशे से अकाउंटेंट हैं और एक प्राइवेट कंपनी में कार्यरत हैं और लिखने का शौक़ रखते हैं।

इस बैठक में क़रीब 50 लोग शामिल हुए और यहाँ साहित्य से जुड़े कुछ मुद्दों पर बात हुई। इसके अलावा इस बार बैठक को आयोजित करने का मुख्य कारण दिल्ली से आये 'दुआएं फाउंडेशन" के संस्थापक आशीष शर्मा के लक्ष्य "चाइल्ड-बेगगिंग-फ्री इंडिया" के बारे में जानना और समझना था।

आशीष शर्मा


शर्मा क़रीब पिछले एक साल से भारत भर में पदयात्रा पर हैं और जगह-जगह जाकर लोगों को अपने मिशन के बारे में जागरूक कर रहे हैं। वे अब तक जम्मू, हिमाचल, पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, गोवा, दमन, सिलवासा, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश और उत्तराखंड तक का सफर तय कर चुके हैं। इसके अलावा उत्तर प्रदेश में वे सहारनपुर -- देवबंद -- मुज़फ्फरनगर -- बिजनौर -- मुरादाबाद -- रामपुर -- बरेली -- बदायूं -- अलीगढ़ -- मथुरा -- आगरा से चलते हुए हालहि में कानपुर पहुंचे थे।


"चाइल्ड-बेगिंग फ्री इंडिया" को ध्यान में रखते हुए मिडनाइट डायरी अगले आने वाले कुछ महीनों में एक पोएट्री टूर भी आयोजित कर रहा है जिसमें 150 शहरों में यात्रा कर यह अपने ओपन माइक इवेंट्स कराएगा। इसमें रिकॉर्ड होने वाले वीडियोज़ की कमाई दुआएं फाउंडेशन को दान की जाएगी।

आशीष शर्मा


बैठक ३.० में आये कानपुरवासियों ने इसे सफल बनाने में अपना संपूर्ण योगदान दिया। इसमें भाग लेने वालों में शहर के अलग- अलग हिस्सों से आये लोग मौजूद थे जिनमें पंकज प्रखर मिश्रा, कृष्णकांत वर्मा, शैलराज, अनुज सिंह, शिवम कुशवाहा, अनुभव कुशवाहा, अमिता गौतम, वरुण रस्तोगी, विशेष बाजपेई, नितीश आनंद और दिव्यांशु कश्यप तेजस शामिल हैं।









Comments