मुज्जफरपुर बालिका गृह का कथित आरोपी ब्रजेश ठाकुर तीन अखबारों का मालिक हैं।



फ़ोटो - जगरण 

बिहार के मुज्जफरपुर के एक बालिका गृह के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर के तीन अखबार हैं। ये तीनों अखबार तीन अलग - अलग भाषाओं में हैं। जिनसे उसने अब तक विज्ञापन छाप कर लाखों कमाये हैं।

मेन स्ट्रीम मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, ब्रजेश तीन अखबारों मुजफ्फरपुर से प्रकाशित एक हिंदी दैनिक समाचार पत्र प्रात: कमल, पटना से प्रकाशित एक अंग्रेजी अखबार न्यूज नेक्स्ट और समस्तीपुर जिला से उर्दू में प्रकाशित एक अखबार हालात-ए-बिहार से प्रत्यक्ष या परोक्ष से जुडा हुआ है।

प्रात: कमल में  ब्रजेश को संवाददाता के रूप में बताया गया है, उसके पुत्र राहुल आनंद न्यूज नेक्स्ट के संवाददाता और हालात-ए-बिहार के संवाददाता के रूप में एक शाईस्ता परवीन तथा संपादक के रूप में रामशंकर सिंह का नाम दर्शाया गया है।

हालांकि PIB और राज्य सूचना सहित जनसंपर्क विभाग से जो मान्यता प्राप्त था उसे रद्द कर दिया गया हैं।

राज्य पुलिस, जिसने मामला सीबीआई को सौंप दिया है, ने अपनी जांच रिपोर्ट में में कहा , ‘ठाकुर के अखबार की मुश्किल से 300 कॉपी छपती थीं।'

लेकिन राज्य सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के आकड़ो के मुताबिक अखबार रोजना 60,862 कापियाँ छापती थी।

इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक, पुलिस ने बताया कि ठाकुर के पास इतनी प्रतियां छापने के लिए न तो पर्याप्त स्टाफ था और न ही अच्छी प्रिंटिंग मशीन।








Comments