अमृता आज अकेली है क्योंकि 99 प्रतिशत हंसो के पास केवल अपने पूरे जीवन में एक साथी होता है।

By - सूरज मौर्या

प्रणय - अमृता

अमृता और प्रणय के बारे में आज पूरा देश जनता है। उनकी लव स्टोरी को आज हर कोई पढ़ रहा है। कोई भी ऐसी मीडिया संस्था  नहीं है जिन्होंने इन दोनों की लव स्टोरी के बारे में न लिखा हो। दोनों किस हद तक एक दूसरे से प्यार करते थे ये आप दोनों की फेसबुक वॉल को खंगाल कर पता कर सकते है।

15 जून 2018 को शाम 7 बज कर 5 मिनट पर अमृता ने फेसबुक पर अपनी और प्रणय की एक फोटो पोस्ट की थी। दोनों काफी खुश लग रहे थे। शायद किसी चिड़िया घर में गए हुए थे। उनकी इस फोटो को करीब 2 हजार से भी ज्यादा लोगों ने लाइक और 200 से ज्यादा बार शेयर किया।

तस्वीर में प्रणय हंस के मुंह में अपनी उंगली डाले हुए है। और तभी अमृता ने अपनी और प्रणय की एक सेल्फी ले ली। फेसबुक पर पोस्ट करते हुए अमृता ने अंग्रेजी में एक कैप्शन लिखा, " 


99% swans only have one partner for their whole life, and if their partner dies they can pass away from broken heart.... @relation pure love..."


शायद इस फोटो से हम समझ सकते है कि उनके बीच कितना प्रेम था।

हिंदी अनुवाद - "99 प्रतिशत हंस के पास एक ही जीवन साथी होता है और जब हंस के पार्टनर की मौत हो जाती है तो टूटे हुए दिल के साथ ही बाकी की ज़िंदगी गुजार देती है। @रिश्ता सच्चा प्यार का।..."

प्रणय और अमृता की कहानी।


तेलंगाना में प्रणय नाम के शख्स को उसकी पत्नी अमृता के सामने गाला रेत कर मार दिया गया। अमृता गर्भवती थी और 14 सितंबर 2018 को दोनों जिले के मिरयालागुडा शहर के एक अस्पताल में चेक - अप कराने गये थे। जब वो दोनों अस्पताल से बाहर निकले तो किसी नाम मालूम व्यक्ति ने प्रणय पर धारदार हथियार से हमला कर दिया और वहाँ से भाग गया।

प्रणय और अमृता ने की थी लव मैरिज


प्रणय दलित और अमृता वैश्य समाज की है। दोनों ने स्कूल और कॉलेज में एक साथ पढ़ाई की थी। पढ़ाई के दौरान दोनों एक दूसरे से प्यार करने लगे। पढ़ाई पूरी होने के बाद उन्होंने अपने - अपने परिवार से दोनों की शादी के बारे में बात की लेकिन दोनों के घर वालों ने उनकी शादी कराने से इनकार कर दिया।

जिसके बाद इसी साल 31 जनवरी को दोनों ने हैदराबाद जाकर आर्य समाज विधि से शादी कर ली। इसके बाद दोनों वापस लौटे और प्रणय के घर में रहने लगे।


फ़ोटो - गूगल 

अमृता अपने बच्चे के लिए जिएगी और कास्ट सिस्टम से लड़ेगी


Odd Nari में छपी एक खबर के अनुसार, अमृता पाँच महीने से गर्भवती है। उसे प्रेग्नेंसी के कारण कोई दिक्कत न हो इस बात का पूरा ध्यान प्रणय रखता था। इसलिए वो अमृता को रेगुलर अस्पताल ले जाता था। लेकिन अब प्रणय नहीं है तो वो उसके बिना नहीं जी सकती। लेकिन वो अपने बच्चे के लिए जियेगी और समाज में पल रहे कास्ट सिस्टम से लड़ेगी।

पुलिस का क्या कहना है


मामले की प्राथमिक जांच के बाद पुलिस को भी ऑनर किलिंग का मामला लग रहा है।

बीबीसी तेलुगू को ज़िले के एसपी रंगानाथ ने बताया,''हम ऑनर किलिंग मानकर इसकी जांच कर रहे हैं।"

पुलिस को अमृता के पिता पर हत्या करवाने का शक है क्योंकि दोनों ने यह शादी परिवार की मर्जी के बगैर की थी।

पुलिस ने इस मामले में अमृता के पिता मारुति राव को अभियुक्त-1 और उनके भाई श्रवण को अभियुक्त-2 बनाते हुए कार्रवाई शुरू की है।




प्रणय और अमृता एक - दूसरे को स्कूल समय से जानते थे


प्रणय जब 10 वी में था तब अमृता 9 वी थी। तब उनकी दोस्ती हुई। फिर दोनों ने बीटेक तक पढ़ाई की और फिर दोनों ने अपने - अपने घरवालों को उनके बारे में बताया और अपनी शादी की इच्छा जताई, पर अमृता के पिता मारुति राव ने साफ़ मना कर दिया।

अमृता को वापस बुलाने की कोशिश कर रहे थे मारुति

प्रणय और अमृता शादी करने के बाद। प्रणय के घर पर ही रहने लगे। इस बीच मारुति राव ने अपनी बेटी को वापस बुलाने की भरकस कोशिश की लेकिन अमृता ने वापस जाने से साफ मना कर दिया।


प्रणय के पिता बाला स्वामी ने मीडिया को बताया कि दोनों की शादी के दो माह बाद से ही वो प्रणय की हत्या करना चाहते थे और इस बात को लेकर प्रणय भी परेशान था।

शुक्रवार को प्रणय और उनकी मां अमृता को लेकर मिरयालागुडा के निजी अस्पताल में उनकी जांच करवाने के लिए गए थे।

सीसीटीवी गवाह है पूरी वारदात का।



शनिवार दोपहर 12 बजे वे अस्पताल के अंदर गए और करीब 1.30 बजे जांच खत्म होने के बाद वो अस्पताल से बाहर आ रहे थे तो अनजान शख्स ने उनका पीछा किया अतिर अचानक प्रणय की गर्दन पर धारदार हथियार से करीब दो बार वार किया जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई।


हमलावर वारदात वाली जगह पर ही हथियार छोड़ कर वहां से भागने में सफल रहा। पूरी वारदात सीसीटीवी कैमरे में कैद है पुलिस सीसीटीवी फुटेज की मदद से हत्यारे की पहचान करने में जुटी हुई है।

बाला स्वामी ने दोनों को शहर से दूर जाकर रहने को कहा था


प्रणय के पिता बाला स्वामी ने मीडिया को बताया कि "मारुति राव करोड़पति हैं। वो पैसे के बल पर कुछ न कुछ करेंगे, इसलिए मैंने अपने बहु और बेटे से कहा था कि दोनों दूर चले जाएं। लेकिन मेरी बहू ने जाने से इंकार करते हुए कहा कि वो अपने पिता को इसके लिए मना लेंगी। उसने कहा था कि दोनों कुछ न कुछ काम कर लेंगे।"

उन्होंने कहा, "अमृता की उनके माता-पिता से कुछ समय से बातचीत हो रही थी और उन लोगों ने उसे यह विश्वास दिला दिया था कि वो बदल गए हैं, लेकिन उन्होंने मेरे बेटे की हत्या करवा दी।"


फ़ोटो - सोशल मीडिया 

पुलिस इस मामले की पड़ताल कर रही है। सोशल मीडिया पर बहुत से लोग अमृता के सपोर्ट कर रहे हैं। वहीं प्रणय की हत्या के विरोध में कुछ लोग सड़कों पर भी उतर आए हैं. दलितों के लिए काम करने वाले संगठन इस मामले को जमकर उठा रहे हैं और प्रणय के लिए इंसाफ की मांग कर रहे हैं। लगातार ही इस घटना के विरोध में प्रदर्शन हो रहा है।















Comments