यूपी में पुलिस इतनी बेबस क्यों है कि कोई भी थप्पड़ मार जाता है





www.hindidakiya.com

यूपी में पुलिस इतनी बेबस क्यों है कि कोई भी थप्पड़ मार जाता है

शुक्रवार देर रात मेरठ के कंकरखेड़ा इलाके में स्थित एक होटेल में यूपी पुलिस के दरोगा एक महिला वकील के साथ खाना खा रहे थे। तब दरोगा का होटल के मालिक के साथ कुछ बहस हो गया। बहस की खबर होटल के मालिक ने स्थानीय बीजेपी पार्षद को दी। कुछ ही पल में बीजेपी पार्षद होटल पहुँच गया जहाँ उनके बीच थोड़ी बहस हुई और फिर देखते ही देखते बीजेपी पार्षद ने दरोगा के गाल पर एक साथ कई थप्पड़ जड़ दिए।


बीजेपी पार्षद का नाम मनीष पंवार है। जिसको पुलिस ने गैरजमानती वारंट के तहत गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस अब मामले की जांच कर रही है।

गिरफ्तारी के बाद पार्षद के समर्थक इकट्ठा हो गए थे, लेकिन पुलिस ने जब उन्हें मारपीट के सबूत दिखाए तो वो वापस चले गए।

मेरठ सिटी के एसपी आर सिंह ने पार्षद की गिरफ्तारी के बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि दरोगा को रेस्तरां में नहीं होना चाहिए था।

बात दे की सोशल मीडिया पर बीजेपी पार्षद द्वारा दरोगा को मारने का वीडियो वायरल हो चुका है। जहां कोई बीजेपी पार्षद को सही बता रहा है तो कोई दरोगा को बता रहा है।
www.hindidakiya.com

बीजेपी पार्षद का आरोप

बीजेपी पार्षद का आरोप है कि दरोगा और महिला वकील होटेल में शराब पी रहे थे जिस वजह से बहस शुरू हुई और मारपीट की नौबत आ गयी।

महिला वकील का आरोप

महिला वकील ने बीजेपी पार्षद के आरोप को खारिज करते हुए मीडिया को बताया कि वो दरोगा के साथ एक केस के सिलसिले में बात करने आई थी।

दरोगा को लिया लाइन हाजिर

पुलिस के अनुसार दरोगा सुखपाल को शुक्रवार रात दशहरा ड्यूटी के लिए तैनात किया गया था। इसी बीच उसने अफसरों को अपनी तबियत खराब होने की बात कहकर घर जाने की बात कही और फिर महिला वकील के साथ होटेल चला गया। फिलहाल दरोगा को लाइन हाजिर कर दिया गया है।

बीजेपी पार्षद के खिलाफ पुलिस तहकीकात शुरू

मेरठ के वार्ड नंबर 40 से बीजेपी पार्षद मुनीश कुमार पर पुलिस ने IPC के सेक्शन 395 (डकैती के लिए) और महिला से गलत व्यवहार के लिए सेक्शन 354 के तहत मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस विभाग के अनुसार सब इंस्पेक्टर की भी जांच की जा रही है. फिलहाल उसे लाइन अटैच कर दिया गया है।






Comments