बदलने वाला है आपका खाता नंबर, अगर आपका अकाउंट इन बैंकों में है तो



www.hindidakiya.com

अगर आपका का खाता बैंक ऑफ बड़ौदा, विजया बैंक और देना बैंक में है तो बदल सकता है आपका खाता। जी हाँ बहुत जल्द आपको एक बार फिर अपने व्यस्त दिनचर्या से समय निकाल कर बैंक के चक्कर लगाने होंगे क्योंकि ये तीनों बैंकों का विलय होने जा रहा है। इसका असर बैंकों पर तो पड़ेगा ही पर बैंक के ग्राहकों को भी खासा दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है।

तीनों बैंकों के तुलन पत्र (बैलेंसशीट) पर असर पड़ेगा और बैंकों में प्रक्रिया संबंधी कुछ बदलाव भी देखने को मिल सकते है। इसलिए अगर आपका खाता उपयुक्त किसी बैंक में है तो आप अभी से अपनी तरफ से थोड़ी तैयारी कर ले।

बदल सकते है खाता नंबर - ग्राहक पहचान पत्र

तीनों बैंको के विलय के बाद ग्राहकों को नया खाता नंबर और ग्राहक पहचान पत्र मिल सकता है। इसके लिए बस आप एक बार बैंक जा कर ये सुनिश्चित कर ले कि बैंक में आपका सही नंबर और ईमेल आईडी दर्ज है या नहीं ताकि बैंक जब भी नए खाता नंबर का आवंटन करें तो आपको इसकी जानकारी मोबाइल या ईमेल आईडी से मिल सके। इसके अलावा आपके सभी खातों को एक आईडी में टैग किया जाएगा। उदाहरण के लिए यदि आपका खाता बैंक ऑफ बड़ौदा में है और दूसरा विजया बैंक में तो दोनों खातों को एक कस्टमर आईडी दी जाएगी।

www.hindidakiya.com

आयकर विभाग को देना होगा जानकारी

नया खाता नंबर और IFSC कोड मिलने के बाद इसकी जानकारी आपको तीसरे पक्ष संस्थानों के पास अपडेट करना होगा। जैसे की कर वापसी के लिए आयकर विभाग, बीमा की राशि की रकम पाने के लिए बीमा कंपनी आदि को इसकी जानकारी देनी होगी।

बंद हो सकती है कई शाखा

तीनों बैंकों के विलय के बाद कई शाखाएँ बंद हो सकतों है। इसलिए अपनी शाखा पर लागू नए आईएफ़एससी नंबर और एमआईसीआर कोड को ध्यान में रख ले। क्योंकि फ़ंड ट्रान्सफर और दूसरे वित्तीय लेनदेन में इसकी जरूरत पड़ती है।








Comments