ट्रैक्टर से सिर्फ खेती नहीं बल्कि रेसिंग भी होती है वो भी उल्टा





ये एक अनोखे तरह का रेस है। जो शायद अब तक सिर्फ भारत में ही खेला जाता है। इस रेस में रेसर को ट्रैक्टर को उल्टा चलना होता है। ये रेस अपने आप में अनोखा और काफी मनोरंजक है।

इस रेस में रेसर को 50 मीटर लंबे और 9 फुट चौड़े रास्ते पर ट्रैक्टर उल्टा चलाना होता है। जो भी रेसर इस रेस को सबसे कम टाइम में पूरा करता है वो विजेता होता है। ट्रैक्टर के साथ दोनों तरफ दो रेफरी चलते है ताकि ट्रैक्टर का कोई भी पहिया 50 मीटर लंबे और 9 फुट चौड़े बॉक्स की लाइन को टच न कर सके। अगर किसी रेसर के ट्रैक्टर का पहिया लाइन को टच हो जाता है तो उसे आउट करार दिया जाता है। 

आसान नहीं है ट्रैक्टर को उल्टा चलाना


www.hindidakiya.com

कोई भी गाड़ी की स्टेयरिंग को राइट घुमाओ तो वो लेफ्ट जाती है और लेफ्ट घुमाओ तो वो राइट जाती है। लेकिन ट्रैक्टर में ऐसा कतई नहीं होता। ट्रैक्टर की स्टेयरिंग जिस दिशा में घूमेगा उसी दिशा में ट्रैक्टर घूमेगा। इसलिए इस रेस में रेसर को बहुत ही ध्यान और तकनीक के साथ ट्रैक्टर चलाना होता है।

क्या कहना है गांव के सरपंच का

गांव के सरपंच ने हिस्ट्री TV 18 को दिए गए इंटरव्यू में बताया, उल्टा ट्रैक्टर रेस की शुरुआत पंजाब के दरिवाला गाँव में 18 साल पहले हुई थी। इसके बाद इस रेस को आगे बढाने के लिए टूर्नामेंट का भी आयोजन किया जाने लगा। सरपंच का मानना है कि आज के लड़के पढ़ाई तो कर रहे है और खेती से दूर है लेकिन इसकी वजह से काफी मदद मिली है।






Comments