प्लेटफार्म पर लक्ष्मण रेखा खिंचेगी ये नीली बत्ती



www.hindidakiya.com

फ़ोटो साभार - लोकल प्रेस को.

मुंबई जैसे बड़े महानगर की लाइफ लाइन है मुंबई लोकल। इसके बिना मुंबई अधूरी सी लगती है। मुंबई लोकल की रफ्तार से ही मुंबई की एक अलग पहचान भी है। जो भी मुंबई में पहली बार आता है तो वो मुंबई की लोकल ट्रेन में सफर करने का मौका तलाशता रहता है।

ये लोकल ट्रेन मुंबई को उसके आस - पास के जिलों से जोड़ती है। जहाँ से बड़ी तादात में लोग व्यपार केंद्र जैसे शहर मुम्बई में आते है। रोजाना लोकल ट्रेनों से लगभग 70 लाख लोग सफर करते है। यानी आप ये समझ सकते हो कि यहाँ के रेलवे अधिकारी खाली समय मिलने पर तंबाकू नहीं घिसते होंगे।


मुंबई लोकल ट्रेन पर नीली बत्ती क्यों लगाई गई है


रेलवे ट्रेनों के दरवाजों के ऊपर नीले रंग के संकेतक लग रहा है। यह ट्रेन के रवाना होने से पहले जल उठेगा जिसका अभिप्राय होगा कि यात्री चलती ट्रेन में न चढ़ें।
रेलवे के एक अधिकारी ने सोमवार को मीडिया से बताया, जब ट्रेन चलने लगेगी, तो संकेतक से प्लेटफार्म पर एक रेखा बन जाएगी, जो यात्रियों को हादसों से बचने के लिए बिल्कुल आगे नहीं बढ़ने का संकेत होगा। इससे प्लेटफार्म पर एक प्रकाश रेखा बन जाएगी, जो यात्रियों को किसी बाहरी वस्तु या विपरीत दिशा से आने वाली ट्रेनों की टक्कर के खतरों की चेतावनी देगी।

रेलवे के एक अधिकारी ने सोमवार को बताया, जब ट्रेन चलने लगेगी, तो संकेतक से प्लेटफार्म पर एक रेखा बन जाएगी, जो यात्रियों को हादसों से बचने के लिए बिल्कुल आगे नहीं बढ़ने का संकेत होगा। इससे प्लेटफार्म पर एक प्रकाश रेखा बन जाएगी, जो यात्रियों को किसी बाहरी वस्तु या विपरीत दिशा से आने वाली ट्रेनों की टक्कर के खतरों की चेतावनी देगी।








Comments