राहुल गांधी को भ्रष्टाचारीयों से मिलवा रहे है सजंय निरुपम

By - डाकिया सूरज



संजय निरुपम, मुंबई राष्ट्रीय कांग्रेस समिति के अध्यक्ष। मतलब अगर मुंबई में कांग्रेस पार्टी में किसी से भी मिलना है तो ये सही आदमी है जो आपको कांग्रेस के किसी भी सदस्य से मिलवा देगा।

ये बकवास या अफवाह नहीं है। ये हकीकत है क्योंकि ऐसा हुआ है।

एक तरफ संजय निरुपम मीडिया में या किसी भी अन्य तरीके से देश के दूसरे नेताओं पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाते है और देश का भला करने की बात करते है वहीं एक और वो कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी से एक भ्रष्ट व्यक्ति को मिलवाते है।

कौन है ये भ्रष्ट व्यक्ति

संजय निरुपम ने सर्वेश जैसवाल को राहुल गांधी से मिलवाया जिसे सीबीआई ने घुस लेने के आरोप में गिरफ्तार किया था। दरअसल 4 साल पहले सीबीआई ने 18 अगस्त 2014 को सीबीआई ने सेंसर बोर्ड के सीईओ राकेश कुमार को 70 हजार रुपये के घूसखोरी के आरोप में गिरफ्तार किया था। उन पर छत्तीसगढ़ की एक फिल्म को हरी झंडी देने के लिए 70,000 रुपये की घूस लेने का आरोप था। इसके बाद सीबीआई ने सीईओ के साथ घुस लेने वाले दो और लोगों श्रीपति मिश्रा और सेंसर बोर्ड सलाहकार परिषद के सदस्य सर्वेश जायसवाल को गिरफ्तार किया था।

www.hindidakiya.com

संजय निरुपम ने ये काम तब किया जब राहुल गांधी हाल ही में अपने मुंबई विजिट पर आए थे।

निरुपम पर कांग्रेस सदस्य का आरोप 

कांग्रेस के पार्टी के ही सदस्य डॉ. नेक्सन नटके ने आरोप लगाया है कि संजय निरुपम ने अपने करीबियों को मिलवाने के चक्कर में राहुल गांधी को एक भ्रष्ट व्यक्ति से मिलवा दिया। अब ऑफिस बेयर पर उन लोगों पर कार्यवाही होनी जिन्होंने सर्वेश जायसवाल का नाम राहुल गांधी से मिलने के लिए आगे रखा था।

सत्ता पक्ष ने साधा निशाना

वहीं इस पूरे वाक्या के बाद बीजेपी के योगेश वर्मा ने आरोप लगाया है कि संजय निरुपम दूसरों पर भ्रष्टाचार को लेकर उंगली उठाते है लेकिन वो खुद भ्रष्टाचारीयों से मिलते है।
लेकिन अब सवाल ये उठता है कि क्या राहुल गांधी इसपर कोई कार्यवाही करेंगे ?







Comments