ईंटों को जोड़ते - जोड़ते कर दिया UPSC क्रैक ये खबर झूठी है

By - हिंदी डाकिया

www.hindidakiya.com


UPSC सिविल परीक्षा का रिजल्ट (UPSC Civil Final Result) जारी होने के बाद से ही एक तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है. इस तस्वीर में एक नौजवान धूप में मिस्त्री का काम करते नजर आ रहा है. नौजवान अपना नाम सुमित विश्वकर्मा (Sumit Vishwakarma) बताता है. 

चैनलों से लेकर कई वेबसाइट्स ने ये खबर प्रकाशित की है कि एमपी जबलपुर का सुमित विश्वकर्मा जो कि मिस्त्रीगिरी का काम करता है उसने UPSC Civil में 53वां स्थान हासिल किया है. मीडिया में चल रही खबरों के मुताबिक सुमित दिन में मजदूरी और रात को पढ़ाई करता था और उसने कड़ी मेहनत के बाद ये सफलता हासिल की है. बता दें कि सोशल मीडिया और मीडिया में चल रही ये खबरें सरासर झूठी हैं. 


हमने UPSC के रिजल्ट को चेक किया उसमें 53वें स्थान पर सुमित विश्वकर्मा नहीं बल्कि सुमित कुमार हैं.

सुमित कुमार ने ट्वीट कर अपना एप्लीकेशन फॉर्म शेयर किया है.  इस एप्लीकेशन फॉर्म के मुताबिक सुमित कुमार का रोल नंबर 6315639 है. सुमित कुमार बिहार के जमुई के रहने वाले हैं. सुमित ने 53वां स्थान हासिल किया है. हमने सुमित से संपर्क करने की कोशिश की, लेकिन उनका फोन बंद जा रहा है. 


आपको बता दें कि यूपीएससी का रिजल्ट 5 अप्रैल की शाम को जारी किया गया था. यूपीएससी सिविल परीक्षा में राजस्थान के कनिष्क कटारिया ने टॉप किया है. वहीं, भोपाल की सृष्टि जयंत देशमुख लड़कियों में टॉप पर रही हैं. टॉप 25 में 15 लड़के और 10 लड़कियां शामिल हैं. 


साभार - खबर NDTV











Comments