कोई महिला अगर सक्षम होना चाहे तो उसे कोई भी बल आगे आने से नहीं रोक सकता

By - डाकिया दिव्या

www.hindidakiya.com

नाम शोभा शेलार। मुंबई के ठाणे जिले के अंबरनाथ शहर में रहती है। पेश से ऑटो ड्राइवर है। पति के मौत के बाद अपने तीन बच्चों का पेट भरने के लिए शोभा ने यह काम करना सीखा।

वो बहुत ही अच्छी, सकारात्मक सोच वाली महिला है। शोभा से बात करने पर मुझे ऐहसास हुआ की महिलाएँ कितनी शक्तिशाली और धैर्यवान होती है। आज मैं बहुत गर्वनित महसूस कर रही हूँ कि शोभा हर दिन अपना और अपने बच्चों का पेट भरने के लिए लड़ती रही।



Comments