भारतीय मूल की अमेरिकी नागरिक लेफ्टिनेंट अनमोल नारंग



लेफ्टिनेंट अनमोल नारंग


आज एक अत्यंत सुखद समाचार अमेरिका की धरती से सुनने को आ रहा है जहाँ भारतीय मूल की अमेरिकी नागरिक अनमोल नारंग यूएस मिलिट्री एकेडमी से स्नातक होने वाली प्रथम सिख महिला बन चुकी हैं। जो अब सेकेंड लेफ्टिनेंट का पदभार संभालेंगी। 

एयर फोर्स में नारंग की पहली पोस्टिंग 2021 में जपान के ओकिनावा में होगी। उनका परिवार दो पीढ़ियों से जॉर्जिया में रह रहा है। अनमोल नारंग के  दादा भारतीय सेना में सेवा दे चुके हैं। 

उन्होंने वेस्ट प्वॉइंट मिलिट्री एकेडमी से न्यूक्लियर इंजीनियरिंग में चार साल की डिग्री पूरी की है। नारंग एयर डिफेंस सिस्टम के क्षेत्र में काम करना चाहती हैं। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की मौजूदगी में शनिवार को उनकी ग्रेजुएशन सेरेमनी होगी।

सुखद समाचारों का स्वागत किया जाना चाहिए वह संसार के किसी भी क्षेत्र से आये उससे फर्क नहीं पड़ता। जीवन में  राष्ट्रहित सर्वोपरि है। यदि ईश्वर हमें यह अवसर प्रदान करता है तो किसी भी हाल में उसे नहीं गंवाना चाहिए। 

हम भारत के लोग हैं भावनाएं हमारी धमिनियों में रक्त की भांति गति करती हैं। हमें नहीं पता संसार के किस कोने में जॉर्जिया पड़ता है लेकिन उस स्थान से भारतीयता जुड़ी हुई है। वहाँ के कुछ लोग अपने अस्तित्व के युद्ध की लड़ाई लड़ ही नहीं रहे हैं उसे जीत भी रहे हैं। यह एक सार्थक और सकारात्मक लड़ाई है। इसका सम्मान होना चाहिए। ऐसे वीरों का समक्ष सिर का झुकना भी गर्व है। 

हमें बचपन से योग्य होने की शिक्षा दी जाती है। वह योग्यता किसी को हानि पहुँचा कर आये किसी का अनिष्ट कर के मिले। यह हमें कोई परिवार नहीं सिखलाता है। यदि समाज में सम्मान की दृष्टि से जीवन यापन करना है तो हमें उस सम्मान के योग्य बनना होगा। यही धर्म-नीति है। छीन कर कमाया हुआ धन और भय से उत्पन्न सम्मान क्षणभंगुर है। 

लेफ्टिनेंट अनमोल नारंग को सैल्यूट कहिये। नारीवादी हैं तो ऐसी नारियों का समर्थन करिये जो देशहित के लिए खड़े होना जानती हैं। 










Comments